2022 में Kirana Store का व्यापार कैसे शुरू करें?

जैसा कि हम जानते ही हैं online-shopping ने हमारे जीवन को बहुत आसान बना दिया है। online-shopping के जरिए हम हमारे घर का किराना स्टोर (Kirana Store, Grocery Store) में मिलने वाला हर सामान आसानी से मंगवा सकते हैं और यदि कोई विशेष ऑफर होता है तो हमें किराना सस्ते में भी मिल सकता है।

परंतु फिर भी कई बार कुछ चीजें ऐसी होती है जो हम जल्दी से किराने की दुकान (Kirana store) पर जाकर ला सकते हैं। गांव हो या शहर किराना की दुकान हमें सब जगह आसानी से मिल जाती है।

एक अच्छी बात यह भी है कि हम इसे कमाई का जरिया भी बना सकते हैं क्योंकि इसका काम हमेशा ही लोगों को रोजमर्रा की जिंदगी में होता है यदि हम ठीक से समझकर थोड़ी मेहनत करे तो हम किराना स्टोर के जरिए आसानी से बैठे-बैठे पैसे कमा सकते हैं।

किराना स्टोर कैसे खोलें kirana store items list

किराना स्टोर क्या है और इसे कैसे शुरू करें ?

Kirana store पर हमें आसानी से हर जरूरत का छोटा बड़ा सामान मिल सकता है, जगह के अनुसार इसकी साइज छोटी-बड़ी हो सकती है

“Kirana Store, Grocery Store के व्यापार को हम आम भाषा में किराने की दुकान के नाम से जानते हैं।”

यह सब जगह होति हैं एवं हर ग्राहक की जरूरत के अनुसार सामान में बदलाव भी कर सकते हैं।

किराना स्टोर शुरू करने के लिए हमें कुछ चीजें समझना जरूरी है जैसे कि लागत, सामान, कमाई, जगह इत्यादि और सथ हि सथ सामान के लिए हमें बजट भी बनाना जरूरी होता है क्योकि सबसे ज्यादा खर्च सामान में (किराना स्टोर में माल भरने में) ही होता है।

किराना स्टोर खोलने में आने वाली लागत | Cost of Opening a Kirana Store

किराना स्टोर खोलने से पहले हमें अच्छे से बजट बनाना होगा, कि किस चीज के लिए हमें कितने पैसे खर्च करना चाहिए।

क्योंकि Kirana Store खोलने के लिए हमारा बजट मुख्यतः निम्न बातों पर निर्भर करता है

  1. दुकान की लोकेशन
  2. दुकान स्वयं की है या किराए पर ली गई है
  3. दुकान का फर्नीचर हम साधारण रखना चाहते हैं या एकदम मॉडल बनाना चाहते हैं
  4. इलेक्ट्रिक वर्क, लाइट, बोर्ड एवं होर्डिंग
  5. किराने की दुकान का सामान
  6. रजिस्ट्रेशन एवं पंजीयन खर्च
  7. स्टेशनरी एवं अन्य
  8. मार्केटिंग

उपरोक्त सभी खर्चों के लिए अपने आसपास या कोई परिचित में उपलब्ध इलेक्ट्रिशियन कारपेंटर प्रॉपर्टी ब्रोकर्स एवं किराना दुकान के लिए थोक सप्लायर से संपर्क करें उनसे एक बजट लें अथवा इन सभी चीजों के भाव पता करने या थोक सप्लायर तलाश करने के लिए आप indiamart.com का भी उपयोग कर सकते हैं।

“उस बजट के आधार पर निर्णय लें कि आप कितनी लागत लगाना चाहते हैं
और आप जिस क्षेत्र में किराना स्टोर खोलने जा रहे हैं
क्या वहां इतनी बिक्री संभव है कि लागत वापस निकाली जा सके और भविष्य में मुनाफा कमाया जा सके”

क्यॊकि यह हमारी दुकान की लोकेशन पर भी निर्भर करता है कि आपके द्वारा चिन्हित की गई लोकेशन पर कितनी सेल्स होना संभव है एवं सभी खर्च दुकान किराया सहित निकालें जा सकेंगे या नहीं, इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए अपने एक निश्चित लागत को समझदारी पूर्वक उपयोग मेले।

किराना स्टोर का रजिस्ट्रेशन | Kirana Store Registration

  • Trade License :- ट्रेड लाइसेंस की मदद से ग्रोसरी या किराना स्टोर संबंधित सामान को बेचने खरीदने और होल्ड करने की स्वतंत्रता मिलती है
  • Shops and Establishment :- अपनी दुकान का पंजीयन नगर पालिका नगर निगम ग्राम पंचायत आदि में शॉप एस्टेब्लिशमेंट एक्ट 1953 के अंतर्गत करवाएं।
  • FSSAI licensing:- किसी भी प्रकार के खाद्य उत्पाद का व्यापार करने के लिए नियम अनुसार हमें FSSAI लाइसेंस लेना अनिवार्य है, क्योंकि किराना व्यवसाय में अधिकतर खाद्य उत्पाद ही बेचे जाते हैं लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए आप Food Safety and Standard Authority of India (FSSAI) से संपर्क कर सकते हैं।
  • GST Registration :- भारत में सभी प्रकार के व्यापारियों को अपने व्यापार का रजिस्ट्रेशन जीएसटी के अंतर्गत करना एवं सरकार द्वारा निर्धारित टैक्स का भुगतान करना अनिवार्य है, किराना स्टोर खोलने के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाने पर आपको 15 अंकों का जीएसटी आईएस यूनिक आइडेंट जीएसटी नंबर प्राप्त होगा, जिसकी मदद से आप अपना GST return फाइल कर पाएंगे।

किराना स्टोर के लिए मार्केटिंग

  • किसी भी नए व्यवसाय को जल्द से जल्द आगे बढ़ाने के लिए मार्केटिंग की आवश्यकता होती है और किराना स्टोर कीवी मार्केटिंग की जा सकती है जिससे कि हम जल्द से जल्द हमारे स्टोर को आसपास के क्षेत्र में प्रचलित कर सके एवं उसकी एक brand value क्रिएट कर सकें।
  • इसके लिए हम deals, offers, discounts आदि प्रचार के साधनों का उपयोग ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन दोनों ही प्रकार से कर सकते हैं कर सकते हैं।
  • यदि आपकी दुकान एक व्यस्त क्षेत्र में है जहां पर कोई अन्य कंपटीशन उपलब्ध नहीं है वहां पर अगर आप चाहें तो मार्केटिंग के विषय में कुछ कटौती कर सकते हैं।
  • एक बार आपके स्टोर पर ग्राहक(Customer) आने लगे तो फिर स्टोर को सही तरीके से संचालित करने की जिम्मेदारी आपकी है कि ग्राहक को सभी प्रकार का एवं अच्छी क्वालिटी का सामान समय पर मिले।
  • आप ग्राहकों से विनम्र भाषा में आदर एवं सम्मान से पेश आएं इस प्रकार आपके ग्राहकों से व्यवहार मजबूत होंगी।

किराना स्टोर के लिए सहायकों की जरूरत

यदि किराना स्टोर बड़ा है और ठीक से ग्राहकों को सामान देने में परेशानी आती है तो किसी विश्वास पात्र स्टाफ को सहायता हेतु रखा जा सकता है ऐसा स्टाफ जो जिम्मेदार और मेहनती हो जो अच्छे से ग्राहक को संभाल सके और आपकी मदद कर सके।

हो सकता है कि शुरुआत में स्टोर बहुत अधिक अच्छा ना चले परंतु निराश ना हो और अपने व्यवसाय को चलने में थोड़ा समय दे यदि हम मेहनत और ईमानदारी से प्रयत्न करेंगे और सभी छोटी-छोटी बातों को समझ कर व्यवसाय पर ध्यान देंगे तो किराना स्टोर जल्द ही अच्छा चलने लगेगा और मुनाफा भी होने लगेगा।

किराना स्टोर की लोकेशन

  • किराना स्टोर के लिए एक ऐसी लोकेशन देखना जरूरी है जहां सालों साल आपकी दुकान अच्छी चले, यानी कि अच्छा बिजनेस दे और हमें दुकान की जगह बार-बार बदलनी ना पड़े।
  • आस-पास के बाजार में लोगों का आना जाना हो।
  • चुने गए क्षेत्र में भविष्य में भी तरक्की होने की संभावनाएं हैं।
  • पार्किंग सुविधा उपलब्ध हो।
  • दुकान की साइज, हम सामान की मात्रा और बजट के आधार पर सुनिश्चित कर सकते हैं।

किराना स्टोर का इंटीरियर

  • किराना स्टोर का इंटीरियर ऐसा होना चाहिए कि ग्राहक को सामने से देखने पर सभी शेल्फ ठीक से दिखाई दे क्योंकि कहते हैं कि जो दिखता है वही बिकता है।
  • एवं आपको एवं आपके हेल्पर को भी सामान निकालने एवं जमाने में आसानी हो।

Kirana Store Design | Kirana Store Racks

किराना स्टोर आइटम की लिस्ट बनाना और होलसेलर सप्लायर से बात करना

हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हमें दुकान में क्या-क्या सामान रखना है जैसे कि दाल चावल आटा तेल इत्यादि इसके लिए पहले एक लिस्ट बना लें धीरे-धीरे यह समझ आने लगेगा कि क्या सामान अच्छा बिकेगा और क्या नहीं फिर बाद में हम सामान में कुछ बदलाव भी कर सकते हैं।

किसी होलसेलर या सप्लायर से बात कर ले जो आपको आपकी दुकान का सामान समय पर और सही भाव में दे, होलसेलर द्वारा दिए जा रहे माल की गुणवत्ता को सुनिश्चित करें।

किराना स्टोर अनाज लिस्ट

गेहूं, चावल मील, चावल बासमती, दोसा चावल, साबूदाना, बाजरा, साबुत मुंग, चना, उड़द घोटा, हरा चना, काबुली चना, मोट्ट,रागी, हरे सूखे मटर, मूंगफली, राजमा, चवली, जौ, मक्का आदि।

किराना स्टोर आइटम लिस्ट | Kirana Store Items List

  • दाले :- मुंग दाल, चना दाल, कुल्थी दाल, मसूर दाल, मटर दाल, तूर दाल, पीली मूंग दाल, उड़द, उड़द की धुली दाल, सोयाबीन, अरहर की दाल, भट की दाल, सेम, राजमा आदि।
  • मसाले :- केसर दूध पाउडर, चाय मसाला, गरम मसाला, किचन किंग, पाव भाजी मसाला, छोले मसाला, राजमा मसाला, सब्जी मसाला, बिरयानी पुलाव मसाला, फिश करी मसाला, एग करी मसाला, चिकन मसाला, मीट मसाला, जलजीरा पाउडर, चाट पाउडर, सांभर मसाला आदि।
  • नमक, शक्कर आदि :- आयोडीन नमक, रॉक साल्ट, शक्कर, क्रिस्टल शक्कर, गुड़, ईमली, सुखी मिर्ची, धनिया, मेथी, सरसों, तिल, काली मिर्च, जीरा, खसखस, इलायची, लौंग, सौंफ, तेज पत्ता, दालचीनी, जावित्री, कसूरी मेथी, जायफल, अनान्सका फूल, अजवायन, सफ़ेद मिर्ची, हल्दी, घोटा हल्दी, कालोंजी, जीरा पाउडर, धनिया पाउडर, काली मिर्ची पाउडर, हींग, अमचुर, सोंठ, कोकम आदि।
  • सफाई का सामान :- बर्तन धोने का साबुन, बर्तन धोने का पाउडर, बर्तन धोने का लिक्विड, कपडे धोने का पाउडर, नहाने का साबुन, कपडे धोने का साबुन, फ्लोर क्लीनर, टॉयलेट क्लीनर फिनायल, कचरा पात्र, थैली, फिनाइल की गोलियां, बर्तन साफ करने के ब्रश आदि।
  • बॉडी केयर :- टूथ ब्रश, टूथ पेस्ट, नहाने का साबुन, शैम्पू, बालों का कंडीशनर, सेनेटाइजर, सुगन्धित पाउडर, बॉडी लोशन, शेविंग लोशन, बालों के लिए जेल, बालों का तेल, रेजर, ब्लेड, बेबी प्रोडक्ट्स, आदि।
  • अचार मुरब्बा :- जैम, विभिन्न प्रकार के अचार व मुरब्बे, शहद, विनेगर, पापड़, भुने हुए सूखे मेवे, केचप आदि।
  • ड्राई फ्रूट:- सुखा अंजीर, सुखी खुबानी, खुरमानी बादाम, काजू, नारियल, सुखी खजूर, किशमिश, मुनक्का, पिस्ता, केसर, अखरोट, सुपारी, खरबूज के बीज, शाहबलूत, चिरोंजी, छुहारा, अलसी के बीज, मखाना, चिलगोजा, कद्दू के बीज, तरबूज के बीज, आलुबखारा, चिया बीज आदि।
  • पेय पदार्थ :- जूस, चाय पत्ती, कॉफ़ी, कोल्ड ड्रिंक्स, चॉकलेट आदि।
  • ब्रेड और स्नैक्स :- ब्रैड, अंडे, नमकीन, बिस्कुटस, नूडल, पास्ता, ओट मील, कुरकुरे, आदि।
  • तेल/घी :- रिफायंड तेल, वेजिटेबल तेल, घी, वनस्पति तेल, वनस्पति घी, नारियल तेल, मूंगफली तेल, सूरजमुखी तेल, सरसों तेल, सोयाबीन तेल आदि।
  • डेयरी उत्पाद :- दूध, पनीर, छाछ, दही, घी, मक्खन, क्रीम, दूध, आइसक्रीम, दूध पाउडर आदि।
  • बैंकिंग पाउडर :- बैंकिंग सोडा, बंकींग पाउडर, फ़ूड कलर, फ़ूड टेस्ट पाउडर, नारियल पाउडर, यीस्ट आदि।

सामान पर कितना मार्जिन रखें

शुरुआत में बहुत अधिक मुनाफा लेने की कोशिश ना करें किराने की दुकान में शुरुआत में मार्जिन बहुत कम ही होता है

5 से 15% तक सभी सामानों पर मार्जिन अलग होता है जैसे साबुन पर 8%, चावल, चीनी आदि पर 15 से 20 % टूथपेस्ट पर 10% इत्यादि।

यदि किराना दुकान पर अच्छी क्वालिटी का सामान बेचा जाएगा तो ग्राहक आपकी ही दुकान पर आएगा और इस तरह ग्राहकों से अच्छा व्यवहार बनेगा ग्राहकी बढ़ाने के लिए हम सामान थोड़ा सस्ते में दे सकते हैं ग्राहक बनने के बाद और अच्छी गुडविल बनने के बाद ही रे धीरे मारजिंग को बढ़ाया जा सकता है।

ग्राहक की जरूरत के अनुसार सामान में थोड़ा बदलाव लाना भी फायदेमंद साबित होगा मार्जिन और कमाई बढ़ाना है तो सामान की क्वालिटी पर ठीक से ध्यान देना होगा।

किराना स्टोर के लिए मार्केटिंग

  • आजकल सभी व्यवस्थाओं में मार्केटिंग की जाती है और यदि आप चाहें तो किराना स्टोर की भी मार्केटिंग आसपास के क्षेत्र में pamphlets बटवा कर की जा सकती है।
  • ग्राहकों को अच्छा ऑफर देकर भी हमारे स्टोर की ओर आकर्षित किया जा सकता है।
  • घर पहुंच सेवा यानी फ्री होम डिलीवरी भी शुरू की जा सकती है ।
  • यदि हमारे स्टोर के सामान की क्वालिटी अच्छी रहेगी तो ग्राहक बना रहेगा।
  • मोबाइल फोन के जरिए भी किराना स्टोर का प्रचार प्रसार किया जा सकता है Website, WhatsApp group, app या Facebook page के द्वारा।
  • और यदि आपका किराना स्टोर चहल-पहल वाले इलाके में है तो ग्राहक स्वयं ही अपनी जरूरत की चीजों को लेने के लिए आते जाते रहते हैं।
  • जब भी ग्राहक आए तो उसे आपके द्वारा या किसी कंपनी के द्वारा चलाए जा रहे ऑफर एवं डिस्काउंट के बारे में जानकारी दें।
  • किराना स्टोर का नाम ऐसा रखें कि आसानी से याद रखा जा सके और जरूरत पड़ने पर नियमित ग्राहक आपके स्टोर की सलाह दूसरों को भी दे सकें
  • ग्राहकों का बिल बनाते समय उनका मोबाइल नंबर एकत्रित करते रहें समय आने पर उन्हें मोबाइल के द्वारा WhatsApp के जरिए भी संदेश भेजकर ग्राहकों को ऑफर के बारे में सूचित किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें
► Proprietorship Firm | एकल स्वामित्व फर्म
► Partnership Firm | साझेदारी फर्म
► Private Limited | प्राइवेट लिमिटेड कंपनी

ग्राहक से अच्छे व्यवहार बनाए

  • ग्राहकों से अच्छा व्यवहार के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि ग्राहकों की आवश्यकताओं को ठीक से समझे कि उन्हें क्या और कैसा चाहिए ।
  • यदि हमारे सामान की क्वालिटी बेहतरीन रहेगी तो ग्राहक खुश रहेगा।
  • ग्राहकों के साथ हमेशा विनम्र रहे ।
  • ग्राहकों का आदर करेंगे तो वह आपके ही स्टोर आना पसंद करेंगे ।
  • जरूरत पड़ने पर उन्हें बैठने को कहें।
  • ग्राहकों के पीने के पानी की भी सुविधा रखें।
  • ग्राहकों से बात करेंगे उन्हें समझेंगे तो निश्चित ही ग्राहकों से अच्छे व्यवहार बनेंगे।
  • उन्हें ऑफर से अवगत कराएं ।
  • उन्हें “फ्री होम डिलीवरी” की सेवा अवगत कराएं और उनके संपर्क में बने रहे।
  • यदि किसी सामान में कोई खराबी है या दिक्कत है तो वह सामान ग्राहक को बदल कर दें।
  • इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर ग्राहक से बहुत अच्छे व्यवहार बनाए जा सकते हैं।

FAQ

  • Kirana Store NIC code for Udyog Aadhar.

    किराने की दुकान के लिए NIC कोड 47110 है जो उपभोक्ता श्रेणी के पेय पदार्थ या खाद्य के अंतर्गत आता है।

  • Non alcoholic drink can we sale on grocery shop?

    Yes you can sale non-alcoholic beverages on your grocery store.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *